Janta Curfew 22 March 2020 | जनता कर्फ्यू 22 मार्च 2020

जनता कर्फ्यू 22 मार्च 2020 | Janta Curfew 22 March 2020

19 मार्च 2020 को  देश के नाम अपने संदेश में प्रधानमंत्री मोदी ने देशवासियों से जनता कर्फ्यू (Janta Curfew 22 March 2020) की मांग की है. उन्होंने कहा कि आने वाले रविवार यानी 22 मार्च 2020 को देश की जनता द्वारा देश के जनता के लिए Janta Curfew लगाया जाए.

जनता कर्फ्यू क्या है? What is Janta curfew?

पीएम मोदी ने यह अपील की कि इस जनता कर्फ्यू के दौरान देश की जनता जिन्हें कोई अति आवश्यक कार्य ना हो खुद पर स्वयं ही कर्फ्यू लगाएं और प्रातः के 7:00 बजे से लेकर रात के 9:00 बजे तक घर से बाहर ना निकले. ऐसा करने से यदि लोग कहीं आएंगे जाएंगे नहीं तो करो ना वायरस फैलने का खतरा भी कम होगा साथ ही भविष्य में ऐसे किसी परिस्थिति  का सामना करने का अभ्यास भी होगा.

Janta Curfew

Janta Curfew

कोरोना वायरस Novel-covid19

जैसा कि आप सब जानते हैं इस समय पूरा विश्व Novel COVID-19  यानी कोरोनावायरस से लड़ रहा है. हाल फिलहाल में पूरे विश्व में इससे बड़ी कोई महामारी नहीं फैली.पूरा विश्व समय संकट में है. जहां कई देशों जैसे इटली अमेरिका ईरान इंग्लैंड आदि देशों में करुणा वायरस तेजी से बढ़ रहा है वहीं इन देशों की तुलना में भारत की जनसंख्या को देखते हुए अभी तक कोरोना वायरस बहुत अधिक तेजी से नहीं चल रहा है.

परंतु आगे भी ऐसा यह जो यह कहना कठिन है. इसलिए पीएम मोदी ने देश को अपने संदेश में कहा कि देशवासियों को इस बीमारी से निपटने के लिए संयम और साहस की आवश्यकता है.  प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि कोरोना वायरस से निपटने का अभी कोई निश्चित दवाई या वैक्सीन निकालने में विज्ञान असमर्थ रहा है. इसलिए बचाव ही इस बीमारी का उपयुक्त इलाज है.जनता कर्फ्यू वाले दिन पीएम मोदी ने अपील की है कि लोग घरों से बाहर ना निकले केवल वही लोग बाहर निकले जिनकी सेवाएं आवश्यक है .

साथी प्रधानमंत्री मोदी ने अपील की कि जो लोग सेवा परमो  धर्म अपनाकर निस्वार्थ भाव से इस कठिन परिस्थिति में भी अपनी सेवाएं दे रहे हैं और दिन रात लोगों की सेवा में जुटे हुए हैं उन लोगों  के प्रति देशवासियों को अपनी श्रद्धा प्रकट करनी चाहिए. इसके लिए प्रधानमंत्री मोदी ने अपील की जनता कर्फ्यू वाले दिन शाम को 5:00 बजे अपने घर पर या बालकनी में खड़े होकर इन लोगों का अभिवादन करें. जनता कर्फ्यू वाले दिन अभिवादन करने के लिए आप थाली बजाकर घंटी  मैं बजाकर या ताली बजाकर इन लोगों का अभिवादन कर सकते हैं. 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *